जरूर पढ़ें: नए रिश्ते में इन चीजों को करने की ना करें भूल

समाचार

नया रिश्ता अपने साथ मन में एक नया उत्साह व उमंग लेकर आता है। जब कोई लड़की किसी के साथ एक नए रिश्ते में जुड़ती है, तो उसका मन एक अजीब सी खुशी से भरा हुआ होता है और उस समय वह कुछ भी करने से पहले सोचती नहीं है। आप उसे गहराई से जानना व समझना चाहती हैं और अपने जीवन की ढेर सारी बातें उसके साथ शेयर करना चाहती हैं। यकीनन एक नए रिलेशन में लड़की अपने पार्टनर के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताना चाहती हैं।

परिवार व दोस्तों की शिकायत करना:
हर लड़की अपने जीवन के बारे में अपने पार्टनर से बात करना चाहती है, लेकिन नए रिश्ते में बेहद जल्द आपको अपने पार्टनर से परिवार व दोस्तों को लेकर शिकायत नहीं करनी चाहिए। दरअसल, नए रिश्ते शुरू से ही आपके द्वारा लाई गई ऊर्जा पर बने होते हैं और आपका रिश्ता भविष्य में कैसा होगा, यह वह ऊर्जा ही तय करती है। अगर वह ऊर्जा लगातार नकारात्मक है तो रिश्ते का लंबे समय तक टिक पाना काफी मुश्किल होता है। साथ ही आपके द्वारा की जाने वाली हरदम नकारात्मक बातें आपके पार्टनर के मन में भी आपके प्रति नकारात्मकता पैदा करते हैं।

एक्स के बारे में बात करना:
जब आप अपने एक्स के बारे में बेहद जल्द बात करती हैं तो यह आपके रिश्ते के लिए खतरनाक होता है। खासतौर से, अगर आपका अभी-अभी ब्रेकअप हुआ है तो आपको अपने पार्टनर से इस बारे में बात नहीं करनी चाहिए। ऐसा करने से पार्टनर को लगता है कि आप अभी भी मूव ऑन नहीं कर पाई हैं। इससे वह आपसे जुड़कर भी दिल से जुड़ नहीं पाते और आपके रिश्ते को वह मजबूती नहीं मिलती।

शादी की बात:
यकीनन हर लड़की शादी के बंधन में बंधकर अपने रिश्ते को एक मुकम्मल मुकाम देना चाहती है। लेकिन रिश्ते की शुरूआत में ही पार्टनर से रिश्ते की बात करना या फिर शुरूआत में ही शादी की प्लानिंग करना सही नहीं है। इससे आपके रिश्ते की वास्तविक खूबसूरती कहीं खो जाती है और आपके पार्टनर पर शादी का अतिरिक्त दबाव बनता है। बेहतर होगा कि आप दोनों एक-दूसरे को समझने का समय दें और जब आप दोनों वह कनेक्शन महसूस करें, तब ही शादी की बात करें।

गॉसिप करना:
गॉसिप भी रिलेशन में एक तरह से नेगेटिविटी क्रिएट करती है और इसलिए यह वह ऊर्जा नहीं हो सकती है जिसे आप रिश्ते की शुरूआत में लाना चाहती होंगी। बेहतर होगा कि आप रिलेशन की शुरूआत में इधर-उधर की बातें करने या फिर किसी की बुराई करने की जगह पार्टनर से अपने विचारों व सपनों के बारे में बात करें। याद रखें कि यह आपके रिश्ते का आधार बनाने का अवसर है और इस दौरान किसी भी तरह की नकारात्मकता आपके रिश्ते में नहीं होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *