यूपीटीईटी 2019 पेपर लीक – यूपी टीईटी एग्जाम दोबारा आयोजित किया जा सकता है.

समाचार

शिक्षक पात्रता परीक्षा 2019 एग्जाम का पेपर लीक हो गया है. जिसकी वजह से एग्जाम कैंसिल होने का भी खतरा मंडरा रहा है. मीडिया की मानें तो एसटीएफ ने गाजीपुर से 14 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार भी किया है. इसके अलावा स्पेशल फोर्स ने परीक्षा सेंटर से मोबाइल फोन और एक्टिवेटेड सिम के साथ एक मोटरसाइकिल और 4,11,000 रुपये भी बरामद किया है. हालांकि स्पेशल पुलिस फोर्स इस समय मामलें की जांच कर रहा है और जल्द आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा. वहीं यूपी बेसिक एजुकेशन बोर्ड की तरफ से अभी तक कोई जवाब नहीं आया है.

यूपी टीईटी की परीक्षा पहले 22 दिसंबर को आयोजित की जानी थी, लेकिन नागरिकता संशोधन एक्ट विरोध के चलते एग्जाम को कैंसिल कर दिया गया था और बोर्ड ने एग्जाम 8 जनवरी को आयोजित कराने का फैसला लिया था. लेकिन अब ये परीक्षा में निरस्त की जा सकती है.

यूपी टीईटी 2019 एग्जाम शेड्यूल की मानें तो टीईटी आंसर की ऑफिशियल वेबसाइट पर 14 जनवरी 2020 को जारी की जानी हैं. जबकि फाइनल आंसर की ऑफिशियल वेबसाइट पर 31 जनवरी 2020 को जारी की जाएगी. आंसर की जारी होने के बाद विभाग द्वारा रिजल्ट जारी किया जाएगा. अगर सबकुछ ठीक रहा तो रिजल्ट ऑफिशियल वेबसाइट पर 7 फरवरी 2020 को जारी किया जा सकता है.

हीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश टीईटी परीक्षा को लेकर अधिकतर अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया है कि कल यानी कि एग्जाम दिन 8 जनवरी को भारी बारिश की वजह से अधिकतर अभ्यर्थियों को परीक्षा सेंटर पर पहुंचने पर देरी हुई और इसी कारण उनका एग्जाम छूट गया. वहीं अन्य छात्रों ने आरोप लगाया है कि भारत बंद होने की वजह से कई जगह जाम था. जिसकी वजह से अभ्यर्थी एग्जाम सेंटर पर नहीं पहुंच सकें और पेपर छूट गया. इसलिए अभ्यर्थी यूपीटीईटी की परीक्षा दोबारा आयोजित कराने की मांग कर रहे हैं.

यूपी टीईटी पेपर लीक होने की वजह से एग्जाम फिर से आयोजित कराने की खबरें तेज हो चुकी है. हालांकि विभाग द्वारा अभी तक किसी भी निर्धारित तिथि का ऐलान नहीं किया गया है. वहीं कई अभ्यर्थियों का एग्जाम भारत बंद और बारिश के चलते भी छूट गया है. इसलिए ऐसा मना जा रहा है कि एग्जाम दोबारा आयोजित किया जा सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *